ऐसे कौन से वादे हैं जो माता-पिता अपने बच्चों के लिए दावा कर सकते हैं?

This post is also available in: English (अंग्रेज़ी) العربية (अरबी) Español (स्पेनिश)

बाइबल विश्वासियों को कई वादे प्रदान करती है जो वे दावा कर सकते हैं जब वे अपने बच्चों की आत्मिक और शारीरिक भलाई दोनों के लिए प्रार्थना करते हैं। यहाँ इनमें से कुछ वादे हैं:

“और उन्होंने कहा, “प्रभु यीशु पर विश्वास कर, तो तू और तेरा घराना उद्धार पाएगा” (प्रेरितों के काम 16:31)।

“16 यहोवा यों कहता हे: रोने-पीटने और आंसू बहाने से रुक जा; क्योंकि तेरे परिश्रम का फल मिलने वाला है, और वे शत्रुओं के देश से लौट आएंगे। 17 अन्त में तेरी आशा पूरी होगी, यहोवा की यह वाणी है, तेरे वंश के लोग अपने देश में लौट आएंगे” (यिर्मयाह 31:16-17)।

“तेरे सब लड़केबालों को यहोवा की शिक्षा दी जाएगी, और तेरी सन्तान को बड़ी शान्ति मिलेगी” (यशायाह 54:13)।

“याह की स्तुति करो। क्या ही धन्य है वह पुरूष जो यहोवा का भय मानता है, और उसकी आज्ञाओं से अति प्रसन्न रहता है! 2 उसका वंश पृथ्वी पर पराक्रमी होगा; सीधे लोगों की सन्तान आशीष पाएगी”  (भजन संहिता 112:1-2)।

“3 क्योंकि मैं प्यासी भूमि पर जल और सूखी भूमि पर धाराएं बहाऊंगा; मैं तेरे वंश पर अपनी आत्मा और तेरी सन्तान पर अपनी आशीष उण्डेलूंगा। 4 वे उन मजनुओं की नाईं बढ़ेंगे जो धाराओं के पास घास के बीच में होते हैं” (यशायाह 44:3-4)।

“3 तेरे घर के भीतर तेरी स्त्री फलवन्त दाखलता सी होगी; तेरी मेज के चारों ओर तेरे बालक जलपाई के पौधे से होंगे। 4 सुन, जो पुरूष यहोवा का भय मानता हो, वह ऐसी ही आशीष पाएगा” (भजन संहिता 128:3,4)।

“8 क्योंकि, मैं यहोवा न्याय से प्रीति रखता हूं, मैं अन्याय और डकैती से घृणा करता हूं; इसलिये मैं उन को उनके साथ सदा की वाचा बान्धूंगा। 9 उनका वंश अन्यजातियों में और उनकी सन्तान देश देश के लोगों के बीच प्रसिद्ध होगी; जितने उन को देखेंगे, पहिचान लेंगे कि यह वह वंश है जिस को परमेश्वर ने आशीष दी है” (यशायाह 61:8-9)।

“धर्मी जो खराई से चलता रहता है, उसके पीछे उसके लड़के बाले धन्य होते हैं” (नीतिवचन 20:7)।

“11 तू मुझ को उबार और परदेशियों के वश से छुड़ा ले, जिन के मुंह से व्यर्थ बातें निकलती हैं, और जिनका दाहिना हाथ झूठ का दाहिना हाथ है॥ 12 जब हमारे बेटे जवानी के समय पौधों की नाईं बढ़े हुए हों, और हमारी बेटियां उन कोने वाले पत्थरों के समान हों, जो मन्दिर के पत्थरों की नाईं बनाए जाएं” (भजन 144:11-12)।

“यहोवा के भय माननेवाले को दृढ़ भरोसा होता है, और उसके लड़के-बाले शरण पाते हैं” (नीतिवचन 14:26)।

“मैं उन्हें एक ही मन और एक ही मार्ग दूंगा, कि वे सदा मेरा भय मानते रहें, क्योंकि उनका अपना और उनके बाद उनके वंश का भी भला होगा” (यिर्मयाह 32:39)।

“और तू उसकी विधियों और आज्ञाओं को जो मैं आज तुझे सुनाता हूं मानना, इसलिये कि तेरा और तेरे पीछे तेरे वंश का भी भला हो, और जो देश तेरा परमेश्वर यहोवा तुझे देता है उस में तेरे दिन बहुत वरन सदा के लिये हों” (व्यवस्थाविवरण 4:40)।

“तौभी यहोवा यों कहता है, हां, वीर के बंधुए उस से छीन लिए जांएगे, और बलात्कारी का शिकार उसके हाथ से छुड़ा लिया जाएगा, क्योंकि जो तुझ से लड़ते हैं उन से मैं आप मुकद्दमा लडूंगा, और तेरे लड़के-बालों का मैं उद्धार करूंगा” (यशायाह 49:25)।

 

परमेश्वर की सेवा में,
BibleAsk टीम

This post is also available in: English (अंग्रेज़ी) العربية (अरबी) Español (स्पेनिश)

More answers: