यहूदियों का इस्राएल लौटना क्या बाइबिल की भविष्यद्वाणी की पूर्ति नहीं है?

अलियाह प्रवासी से इस्राएल लौटने वाले यहूदियों का आप्रवासन है। यह पहली बार 1800 के अंत में द्वितीय विश्व युद्ध के बाद शुरू हुआ जब इस्राएल की स्थापना हुई थी।…
View Answer

यरूशलेम की घेराबंदी के दौरान, क्या वास्तव में इस्राएलियों ने अपने बच्चों को खाया था?

यरूशलेम की घेराबंदी परमेश्वर भविष्य जानता है। वह हमारे चुनने के परिणामों को जानता है और उसकी भलाई में वह अपनी सुरक्षा के तहत आशीर्वाद देने का वादा करता है।…
View Answer

अंजीर की दो टोकरी के दर्शन क्या था जिसे यिर्मयाह ने देखा?

भविष्यद्वक्ता यिर्मयाह ने उसकी किताब के अध्याय 24 में अंजीर की दो टोकरी के बारे में भविष्यद्वाणी की है। इस दर्शन में, नबी ने यहूदियों की पुनःस्थापना को पहले ही…
View Answer

इस्राएल को यहेजकेल के संदेश का लक्ष्य क्या था?

यहेजकेल का संदेश बाबुल की कैद के दुखद अनुभव के माध्यम से उसके बच्चों के लिए ईश्वर के उद्देश्य को प्रकट करता है। सदियों से भविष्यद्वक्ताओं ने इस्राएल को सलाह…
View Answer

यहेजकेल के भवन के दर्शन में पानी क्या दर्शाता है?

यहेजकेल के दर्शन में जल का उल्लेख करने वाला पद्यांश, यहेजकेल 47 में पाया जा सकता है: “फिर वह मुझे भवन के द्वार पर लौटा ले गया; और भवन की…
View Answer

अब हम अंत समय की भविष्यद्वाणियों के समय में कहां हैं?

मसीही आज प्रकाशितवाक्य 13 और 14 में वर्णित अंत समय में जी रहे हैं। ये दोनों अध्याय दो महान पशुओं के बारे में बताते हैं। प्रकाशितवाक्य 13 में, पहला पशु…
View Answer

गोग और मागोग क्या है?

यहेजकेल अध्याय 38-39 और प्रकाशितवाक्य 20: 7-8 में गोग और मागोग को क्या कहा गया है? यहेजकेल गोग में वह नाम है जिसे मूर्तिपूजक मेजबानों के नेता को नामित करने…
View Answer

बाबुल में इस्राएली बन्धुओं के लिए यिर्मयाह की सलाह क्या थी?

बाबुल में इस्राएली बंदी निराश और घर पर अपने भाइयों द्वारा नकार दिया, भविष्यद्वक्ता यिर्मयाह ने उसके संदेशों को बाबुल में इस्राएली बंधुओं को निर्देशित किया। उसने बंदियों को एक…
View Answer

बाबुल के राजा और मादा-फारस के गवाह के लिए परमेश्वर ने दानिय्येल का उपयोग कैसे किया?

प्रभु ने बाबुल और मादा-फ़ारस के राजाओं को उसका सत्य गवाह ठहराने के लिए दानिय्येल का इस्तेमाल किया। वह चाहता था कि वे सच्चे ईश्वर – स्वर्ग और पृथ्वी के…
View Answer

क्या यहेजकेल का मंदिर का दर्शन (अध्याय 40-48) शाब्दिक, भविष्यवादी या रूपक है?

यहेजकेल का मंदिर का दर्शन एक सचित्र भविष्यद्वाणी है। अध्याय 40-48 सटीक विस्तार से एक नए मंदिर का दर्शन प्रस्तुत करता है। यह राष्ट्र के विभाजन के लिए एक नई…
View Answer