प्रकाशितवाक्य 16:12 में पूर्व के राजा कौन हैं?

This page is also available in: English (English) العربية (Arabic)

“और छठवें ने अपना कटोरा बड़ी नदी फुरात पर उंडेल दिया और उसका पानी सूख गया कि पूर्व दिशा के राजाओं के लिये मार्ग तैयार हो जाए” (प्रकाशितवाक्य 16:12)।

प्रकाशितवाक्य 16:12 में पूर्व के राजा स्वर्ग के राजा (पिता और पुत्र) हैं। उन्हें पूर्व का राजा कहा जाता है क्योंकि यही वह दिशा है जहाँ से स्वर्गीय प्राणी पृथ्वी पर आते हैं। निम्नलिखित पर ध्यान दें:

  • यीशु का दूसरा आगमन पूर्व से होगा “क्योंकि जैसे बिजली पूर्व से निकलकर पश्चिम तक चमकती जाती है, वैसा ही मनुष्य के पुत्र का भी आना होगा” (मत्ती 24:27)।
  • परमेश्वर की महिमा पूरब से आती है “तब इस्राएल के परमेश्वर का तेज पूर्व दिशा से आया” (यहेजकेल 43:2)।
  • प्रकाशितवाक्य की मुहर के स्वर्गदूत पूर्व से आते है “फिर मैं ने एक और स्वर्गदूत को जीवते परमेश्वर की मुहर लिए हुए पूरब से ऊपर की ओर आते देखा” (प्रकाशितवाक्य 7:2)।
  • यीशु का प्रतीक सूरज, पूर्व में उगता है “परन्तु तुम्हारे लिये जो मेरे नाम का भय मानते हो, धर्म का सूर्य उदय होगा” (मलाकी 4:2)।

फरात उन लोगों का प्रतिनिधित्व करती है जिनके ऊपर रहस्यमय बाबुल का अधिकार है; इसके पानी के सूखने, बाबुल से उनके समर्थन की वापसी; पूर्व के राजा मसीह और पिता; और हर-मगिदोन, मसीह और शैतान के बीच महा विवाद की आखिरी लड़ाई, इस धरती के युद्ध के मैदान पर लड़ी गई। इस प्रकार, रहस्यमय बाबुल से मानवीय समर्थन को वापस लेने को उसकी अंतिम हार और सजा के लिए अंतिम बाधा को हटाने के रूप में देखा जाता है।

 

परमेश्वर की सेवा में,
BibleAsk टीम

This page is also available in: English (English) العربية (Arabic)

Subscribe to our Weekly Updates:

Get our latest answers straight to your inbox when you subscribe here.

You May Also Like

क्या बाइबल की भविष्यद्वाणी में संयुक्त राज्य अमेरिका है?

Table of Contents संकेत 1संकेत 2संकेत 3संकेत 4पहले और दूसरे पशु का मिलना This page is also available in: English (English) العربية (Arabic)प्रकाशितवाक्य 13 दो पशुओं की बात करता है।…
View Post

विलियम मिलर की क्या गलती थी?

This page is also available in: English (English) العربية (Arabic)विलियम मिलर एक बैपटिस्ट उपदेशक थे, जिन्होंने अपने बाइबल अध्ययनों के आधार पर घोषणा की, कि यीशु 22 अक्टूबर, 1844 को…
View Post