क्या नया युग दर्शन अंत समय के परिदृश्य में भूमिका निभाएगा?

Author: BibleAsk Hindi


क्या नया युग दर्शन अंत समय के परिदृश्य में भूमिका निभाएगा?

नया युग दर्शन कम से कम दो भ्रामक झूठ को बढ़ावा देता है जो अंत समय परिदृश्य में एक प्रमुख भूमिका निभाएंगे:

क — पुनर्जन्म

पुनर्जन्म एक शिक्षा है कि आत्मा कभी नहीं मरती है, बल्कि इसके बाद की पीढ़ियों में एक अलग तरह के शरीर में लगातार पुनर्जन्म होता है। एक अमर, अविवेकी आत्मा जो पृथ्वी पर लोगों के साथ संवाद कर सकती है, में यह नया युग विश्वास वही पुरानी गलत शिक्षा है जो शैतान ने अदन में हव्वा से परिचय की थी: “ये निश्चित रूप से मरेंगे नहीं” (उत्पत्ति 3: 4)। यह शिक्षा शास्त्रों के विपरीत है जो सिखाती है कि “और जैसे मनुष्यों के लिये एक बार मरना और उसके बाद न्याय का होना नियुक्त है” (इब्रानियों 9:27)।

बाइबल सिखाती है कि किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद एक व्यक्ति: एक व्यक्ति: मिटटी में मिल जाता है (भजन संहिता 104: 29), कुछ भी नहीं जानता (सभोपदेशक 9: 5), कोई मानसिक शक्ति नहीं रखता है (भजन संहिता 146: 4), पृत्वी पर करने के लिए कुछ भी नहीं है (सभोपदेशक 9:6), जीवित नहीं रहता है (2 राजा 20:1), कब्र में प्रतीक्षा करता है (अय्यूब 17:13), और पुनरूत्थान (प्रकाशितवाक्य 22:12) तक निरंतर नहीं रहता है (अय्यूब 14:1,2)।

जब लोग मानते हैं कि मृत जीवित हैं, “ये चिन्ह दिखाने वाली दुष्टात्मा हैं” (प्रकाशितवाक्य 16:14) मृतकों की आत्माओं के रूप में प्रस्तुत करते हुए, लोगों को धोखा देने के लिए बाइबल के संदेशों के साथ दिखाई देंगे (मत्ती 24:24)। इसलिए, पुनर्जन्म, माध्यम, आत्माओं के साथ संचार, आत्मा पूजा, शैतान दुनिया को परमेश्वर से दूर कर देगा।

ख- सर्वेश्‍वरवाद

सर्वेश्‍वरवाद सिखाता है कि ईश्वर ही सब कुछ और सबका है और सब कुछ और सब ईश्वर है। और जब से ईश्वर अवैयक्तिक है, नया युग को उसकी पूजा नहीं करनी है। सर्वेश्‍वरवाद भी सिखाता है कि पूर्णताएं नहीं हैं क्योंकि अच्छे और बुरे का कोई भेद नहीं है। इस दर्शन में, मनुष्य अपने दिमाग के माध्यम से अपनी वास्तविकता बनाता है। हालाँकि बाइबल सिखाती है कि परमेश्वर हर जगह है, वह स्पष्ट रूप से सब कुछ नहीं है। इसके अलावा, मानवता परमेश्वर के स्वरूप में बनाई गई थी, इसलिए, मानव जाति न ही है और न ही कभी भी परमेश्वर हो सकती है (उत्पत्ति 1: 26-27)। बाइबल सर्वेश्‍वरवाद के खिलाफ बोलती है और इसे मूर्तिपूजा के रूप में धिक्कारती है।

जो लोग नए युग दर्शन को अपनाते हैं वे एक ऐसी दुनिया में हैं जो परमेश्वर के बाइबिल के दृष्टिकोण के पूर्ण विरोध में हैं। नए युग दर्शन लोगों को अंत में ईश्वर को अस्वीकार करने और शैतान के साथ विमुख करने के लिए प्रेरित करेंगे। हमारी एकमात्र सुरक्षा बाइबल की शिक्षाओं का पालन करने में है (भजन संहिता 119: 105)।

 

परमेश्वर की सेवा में,
BibleAsk टीम

Leave a Comment