क्या गोदना (टैटू ) और छेदना (पियर्सिंग) गलत हैं?

This post is also available in: English (अंग्रेज़ी) العربية (अरबी)

क्या गोदना (टैटू ) और छेदना (पियर्सिंग) गलत हैं?

गोदने और छेड़ने के बारे में, लैव्यवस्था 19:28 में बाइबल कहती है, “मुर्दों के कारण अपने शरीर को बिलकुल न चीरना, और न उस में छाप लगाना; मैं यहोवा हूं।” प्राचीन दिनों में मरे हुए लोगों के लिए संस्कार के सिलसिले में देह को विभिन्न मूर्तिपूजक लोगों द्वारा काट दिया जाता था। अफसोस की बात है कि आज कुछ लोग ऐसी मनोगत प्रथाओं का पालन करते हैं। गोदने को विश्वासियों द्वारा नहीं अपनाया जाना चाहिए क्योंकि यह सृष्टिकर्ता के स्वरूप को बिगाड़ना है (उत्पत्ति 1:27, 28)।

देह को काटने और गोदने के बारे में लैव्यवस्था 19 में बताया गया आत्मिक सिद्धांत आज भी हमारे ऊपर लागू होता है। मसीही दुनिया में होना हैं, लेकिन दुनिया जैसा नहीं। इसमें खुद को हर तरह से परमेश्वर को देना शामिल है, जिसमें हम अपने शरीर के साथ क्या करते हैं: “क्या तुम नहीं जानते, कि तुम्हारी देह पवित्रात्मा का मन्दिर है; जो तुम में बसा हुआ है और तुम्हें परमेश्वर की ओर से मिला है, और तुम अपने नहीं हो? क्योंकि दाम देकर मोल लिये गए हो, इसलिये अपनी देह के द्वारा परमेश्वर की महिमा करो” (1 कुरिन्थियों 6: 19-20)। पौलूस ने कहा, “सो तुम चाहे खाओ, चाहे पीओ, चाहे जो कुछ करो, सब कुछ परमेश्वर की महीमा के लिये करो” (1 कुरिं 10:31)। हमें यह याद रखने की आवश्यकता है कि हमारे शरीर के साथ-साथ हमारी आत्माएं भी छुटकारा पा चुकी हैं और परमेश्वर से संबंधित हैं।

1 पतरस 3: 3–4 में प्रभु कहता है: “और तुम्हारा सिंगार, दिखावटी न हो, अर्थात बाल गूंथने, और सोने के गहने, या भांति भांति के कपड़े पहिनना। वरन तुम्हारा छिपा हुआ और गुप्त मनुष्यत्व, नम्रता और मन की दीनता की अविनाशी सजावट से सुसज्ज़ित रहे, क्योंकि परमेश्वर की दृष्टि में इसका मूल्य बड़ा है।” यहां यह सिद्धांत सिखाता है कि किसी व्यक्ति का बाहरी रूप हमारे ध्यान का केंद्र नहीं होना चाहिए। रोमियों 14:23 हमें याद दिलाता है कि जो कुछ भी विश्वास से नहीं आता है वह पाप है।

 

परमेश्वर की सेवा में,
BibleAsk टीम

This post is also available in: English (अंग्रेज़ी) العربية (अरबी)

More answers: